Sexual Health Blogs

शुक्राणु की कमी के कारण, लक्षण और इलाज - Sperm Count ko kaise Badhaye

दिल्ली में सर्वश्रेष्ठ सेक्सोलॉजिस्ट (Sperm Count ko kaise Badhaye lakshan aur illaj)

क्या आप बच्चा पैदा करने में असमर्थ है यदि हां तो इसके कई कारण हो सकते हैं| सबसे मुख्य कारण होता है वीर्य में शुक्राणुओं का कम मात्रा में पाया जाना यह आजकल की प्रमुख समस्याओ में गिना जाता है| यदि निरंतर संभोग के बाद भी आप पिता नहीं बन पा रहे हैं तो आपको दिल्ली के प्रसिद्ध आयुर्वेदिक सेक्सलॉजिस्ट के पास जाना चाहिए क्योंकि वह आपका उपचार करके आपको कम से कम समय में पिता बनने की खुशी दे सकते हैं| शुक्राणु का कम होना यह एक आम बात है जो व्यक्ति अधिक हस्तमैथुन(Masturbation) करते हैं और अपने खान-पान का ध्यान नहीं रखते उन्हें यह समस्या आ सकती है| इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में मनुष्य को अपने खाने-पीने और रहन-सहन पर ध्यान देना चाहिए ताकि उसे स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों का सामना ना करना पड़े| इस आर्टिकल में आपको शुक्राणुओं को बढ़ाने एवं उपचार के बारे में बताया जाएगा |

शुक्राणु की कमी के मुख्य कारण sperm count ki kami ke karan

शुक्राणुओं की कमी के कई प्रमुख कारण हो सकते हैं| प्रत्येक पुरुष को उन कारणों को ध्यान में रखकर प्रक्रिया करनी चाहिए| शुक्राणुओं की कमी के कई कारण हो सकते हैं परंतु उनमें मुख्य निम्नलिखित प्रकार से हैं:

संक्रमण (Sankraman)

संक्रमण की बात की जाए तो यह बीमारी होती है जो जाने अनजाने में किसी दूसरे व्यक्ति को छूने से क्या उसके साथ खाना खाने से फैल सकती है| संक्रमण बीमारियां अक्सर वीर्य में शुक्राणु की कमी पैदा कर देती हैं| संक्रमण बीमारियां होने पर पुरुष को अपनी सेहत का ध्यान रखना चाहिए और शुक्राणु बढ़ाने वाले पदार्थ का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए जैसे हरी सब्ज़िया, फल, अखरोट आदि | इसके लिए पुरुष डॉक्टर या वैद्य की सहायता भी ले सकते हैं|

वैरीकोसेल (Varicocele)

कभी-कभी पुरुषों के वृषण में सूजन आ जाती है और यह भी शुक्राणु को प्रभावित करती हैं| यदि किसी पुरुष के वृषण में सूजन है तो उन्हें जल्दी से जल्दी डॉक्टर के पास जाना चाहिए| डॉक्टर चेकअप करके पुरुष को सही दवाई प्रदान करेंगे जिससे उनका शरीर ठीक मात्रा में शुक्राणु निर्मित करेगा|

हार्मोन असंतुलन (Harmon Imbalance)

जैसा कि हम सभी जानते हैं पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन होता है और वह शुक्राणु पैदा करता है| यदि किसी व्यक्ति का हार्मोन ठीक प्रकार से काम नहीं कर रहा है तो वह कम शुक्राणु पैदा करेगा जिससे व्यक्ति की निजी संबंध प्रभावित होंगे| इसलिए पुरुषों को समय-समय पर डॉक्टर से चेकअप करवाते रहना चाहिए जिससे हॉरमोन इंबैलेंस की समस्या या कम शुक्राणुओं की समस्या ना पैदा हो|

ट्यूमर (Tumor)

ब्रेन ट्यूमर एवं अन्य प्रकार के ट्यूमर मनुष्य की शरीर को बहुत ही ज्यादा प्रभावित करते हैं| ट्यूमर को ठीक करने के लिए जो भी सर्जरी प्रयोग में लाई जाती है वह शुक्राणुओं की मात्रा को बहुत ही कम कर देती है| यदि मरीज कीमोथेरेपी करवाना चाहता है तो उससे भी शुक्राणुओं की मात्रा कम हो जाती है| इसलिए जिस भी व्यक्ति का ट्यूमर का इलाज हो जाता है उसे डॉक्टर या वैद्य से मशवरा करके शुक्राणुओं की कमी को पूरा करना चाहिए|

गुप्त वृषणता (Gupt Varashanata)

गुप्त वृषणता एक ऐसी समस्या है जिसमें पुरुष का अंडकोष सही जगह पर नहीं होता है| यह समस्या बचपन से ही पाई जाती है| जब कोई बच्चा अपने समय से पहले जन्म लेता है तो उसमें यह समस्या ज्यादा देखी जाती है इसके लिए कई सर्जरी उपलब्ध है| गुप्त वृषणता का सीधा प्रभाव शुक्राणुओं की मात्रा पर पड़ता है परंतु यह सही समय पर उपचार करवाकर ठीक भी कर सकते हैं|

स्खलन समस्याएं (Shighrapatan ki samasya)

स्खलन समस्याएं बहुत ही आम माने जाते हैं और इसके दो कारण हो सकते हैं शारीरिक और मनोवैज्ञानिक| इसमें व्यक्ति का कोई भी काबू नहीं होता है यदि कोई व्यक्ति मनोवैज्ञानिक तौर पर सही नहीं है या फिर शारीरिक तौर पर थका हुआ है तो उसमें स्खलन समस्याएं देखी जा सकती है| अगर सही डॉक्टर या वैद्य से इलाज करवाया जाए तो यह समस्या समय पर ठीक थी की जा सकती है|

सीलिएक रोग (Celiac Rog)

सीलिएक रोग पाचन से जुड़ी एक समस्या है जिसके कारण व्यक्ति को पेट में दर्द या ब्लोटिंग जैसे समस्याएं देखने मिलती हैं| इस रोग मैं छोटी आत में सूजन आ जाती है जिसके कारण पुरुष का शरीर कम शुक्राणु पैदा करने लगता है| यदि आपके भी पेट में दर्द जैसी समस्या है तो जल्दी से जल्दी किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाएं क्योंकि यह आपके शुक्राणुओं को प्रभावित कर सकता है|

शुक्राणु वाहिनी में दोष (sperm duct me dosh)

शुक्राणु वाहिनी में दोष के कारण पुरुषों में शुक्राणु की कमी पाई जाती है| शुक्राणु वाहिनी शुक्राणुओं को जहां से बाहर ले जाने का कार्य करती है| यदि शुक्राणु वाहिनी में कोई दोष आ जाता है या सूजन आ जाती है तो शुक्राणु एक जगह से दूसरी जगह नहीं जा सकते जिससे पुरूषों में बांझपन देखा जाता है| यदि आप भी किसी ऐसी समस्या से जूझ रहे हैं तो आपको एक अच्छे डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए|

शुक्राणु की कमी के लक्षण (Sperm Count ki kami ke Lakshan)

यौन समस्याएं होना( Sex Samasya Hona)

यौन समस्या बहुत ही आम बात होती जा रही है क्योंकि आजकल लोगों की दिनचर्या बहुत ही व्यस्त है| यौन समस्याओं का सीधा असर पुरुषों के विषय में शुक्राणुओं पड़ता है| यदि कोई पुरुष यौन समस्याओं से पीड़ित है तो उसके वीर्य में शुक्राणुओं की मात्रा बहुत ही कम होती है| परंतु सही उपचार से वीर्य के शुक्राणुओं की मात्रा को बढ़ा सकते हैं|

यौन संबंध बनाने की इच्छा में कमी आना (Sex sambhand bnane ki iccha me kmi aana)

तनाव, शराब, अधिक कार्य, शारीरिक थकान यह सभी चीजें कामेच्छा में कमी ला सकती हैं| कामेच्छा की कमी के कारण पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की मात्रा घटती जाती है| यदि आपको भी लगता है कि आपके वीर्य में शुक्राणुओं की मात्रा बहुत कम है और आप के अंदर कामेच्छा खत्म होती जा रही है, तो आपको जल्दी से जल्दी एक अच्छे डॉक्टर के पास जाना चाहिए|

लिंग में तनाव बनाए रखने में दिक्कत आना (Ling me Tanav Banaye Rakhne Me Dikkat Aana)

अराउजल के दौरान पुरुषों के लिंग में तनाव नहीं आ पाता है जिसके कारण वे ठीक से सेक्स नहीं कर पाते हैं| तनाव ना आने के कारण पुरुषों के वीर्य में शुक्राणु की पैदावार नहीं हो पाती है| यदि आपके भी वीर्य में शुक्राणु की कमी है एवं लिंग में तनाव नहीं है तो आपको एक सही डॉक्टर की जरूरत है|

स्तंभन दोष या नपुंसकता होना (Erectile Dysfunction)

बढ़ती आयु के पुरुषों में नपुंसकता(Erectile Dysfunction) देखी जाती है नपुंसक पुरुष किसी भी स्त्री को चरम सुख प्रदान करने में असमर्थ होते हैं| उनका लिंक को ठीक से इरेक्ट नहीं हो पाता है, यदि कोई व्यक्ति अपने लिंक को इरेक्ट नहीं कर पाता है तो उसे नपुंसकता में गिना जाएगा इसका सही एवं पूर्ण इलाज संभव है|

वृषण क्षेत्र में दर्द, सूजन या गांठ होना(Lump in Testicles)

जब किसी पुरुष के वृषण क्षेत्र में जलन या सूजन आ जाती है तो उसके कारण भी शुक्राणु पैदा होने की मात्रा कम हो जाती है| जलन या सूजन का कोई भी कारण हो सकता है परंतु ध्यान रखें कि आप कोई भी क्रीम या मलहम बिना डॉक्टर से पूछे ना लगाएं| यह बहुत ही नाजुक स्थान होता है इसलिए डॉक्टर के से परामर्श के बाद ही इस पर काम करें|

चेहरे या शरीर के बालों का कम होना(loss of facial or body hair)

पुरुषों के शरीर और चेहरे पर कम बाल होने का मतलब है कि उनके शरीर में टेस्टोस्टेरोन(Testosterone) की मात्रा बहुत कम है| इसकी मात्रा सही दवाइयों और इलाज से बढ़ाई भी जा सकती है| यदि आपके चेहरे और शरीर पर बहुत कम हाल है तो आपको किसी अच्छे डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए| वह आपको सही दवाइयां एवं रास्ता बताएंगे टेस्टोस्टेरोन का प्ले शरीर में बढ़ाने का|

शुक्राणु की कमी के इलाज(Sperm Count ki kami ka Illaj)

शुक्राणु बढ़ाने के लिए रोजाना एक्सरसाइज करें.लाज(Sperm Count badhane ke liye daily excercise kre.

यदि आपको लगता है कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा बहुत कम है तो आप को नियमित रूप से व्यायाम एवं एक्सरसाइज करनी चाहिए| यदि आप व्यायाम को लेकर नियमित नहीं हैं तो आप जिम एक्सरसाइज क्लब ज्वाइन कर सकते हैं| रेगुलर व्यायाम और एक्सरसाइज आपके शरीर को फुर्तीला रखेगा एवं टेस्टोस्टेरोन को रिलीज करने में मदद करेगा|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए पर्याप्त मात्रा में विटामिन-सी लें.(sperm count Badhane ke liye Vitamin C le)

विटामिन सी का नियमित सेवन में टेस्टोस्टेरोन को इनक्रीस बढ़ाने में आपकी मदद करेगा| विटामिन सी के सेवन के लिए आप संतरा, केला, अमरूद, आंवला, नारंगी, दूध, चुकंदर, मुन्नीका जैसे पदार्थ का सेवन कर सकते हैं| विटामिन सी की गोलियां भी काफी प्रसिद्ध है आप उनका फायदा भी उठा सकते हैं|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए स्ट्रेस मैनेज करें.(sperm count Badhane ke liye stress kam kre)

शुक्राणुओं की मात्रा बढ़ाने के लिए आपको अपनी दिनचर्या से ट्रेस को हटाना होगा| स्ट्रेस कम करने के लिए आप व्यायाम कर सकते हैं या फिर स्ट्रेस रिलीविंग ग्रुप में सम्मिलित हो सकते हैं| एक बहुत बड़ी बीमारी है जो आपके शरीर को धीरे धीरे कमजोर बना देगी| स्ट्रेस कम करने के लिए अपना खानपान सही रखें और मुसीबत से ज्यादा उपाय निकालने पर फोकस करें|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए पर्याप्त मात्रा में जिंक लें.(Sperm count Badhane ke liye jink ka sevan kre)

शुक्राणुओं की मात्रा बढ़ाने के लिए आपको जिंक की मात्रा बढ़ानी होगी| अपने खाने में जिंक के लिए आप मूंगफली अंडे तेल लहसुन एवं मशरूम जैसी चीजों का सेवन कर सकते हैं| ज्यादा से ज्यादा ड्रिंक ग्रहण करने पर आपका शरीर वीर्य में शुक्राणुओं की मात्रा एवं पैदावार बढ़ाता रहेगा जिससे आप एक सुखी जीवन का आनंद ले सकते हैं|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए स्मोकिंग छोड़ दें. (sperm count Badhane ke liye smoking chod de)

स्मोकिंग करना सेहत के लिए अच्छी नहीं है यह सबको पता है परंतु क्या आपको पता है कि स्मोकिंग करने से आपके वीर्य से शुक्राणुओं की मात्रा कम होती जाएगी| यदि आप अपने शरीर में ऊर्जा एवं स्फूर्ति लाना चाहते हैं तो आपको स्मोकिंग जल्दी से जल्दी छोड़नी होगी| स्मोकिंग छोड़ने के बाद आप पाएंगे कि आपके शरीर में शुक्राणुओं की मात्रा बढ़ती जा रही है एवं आप अपने पार्टनर को सुख की चरम सीमा तक पहुंचा पा रहे हैं|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए अनहेल्दी फैट ना खाएं(sperm count Badhane ke liye inhealthy fat na khaye)

फैट दो प्रकार के होते हैं गुड फैट और बेड फैट| यदि आपकी बॉडी में गुटखा की मात्रा कम हो जाती है बेड बेड से तो आपका शरीर शुक्राणुओं की पैदावार कम कर देगा| गुड फैट की मात्रा बढ़ाने के लिए आपको अपनी डाइट में थोड़े से बदलाव करने होंगे| यह बदलाव आप खुद से कर सकते हैं या फिर किसी एक्सपोर्ट डाइटिशियन की मदद ले सकते हैं|

डॉक्टर इंद्रजीत सिंह गौतम के द्वारा शुक्राणु बढ़ाने के लिए डायट प्लान(Dr Inderjeet Gautam ke dwara sperm count increase krne ke diet plans)

शुक्राणु बढ़ाने के लिए अंडे (Eggs) खाएं

अंडे को अपने डाइट में ऐड करके आप शुक्राणु की मात्रा बढ़ा सकते हैं| सबसे अच्छी बात यह है कि आप अंडों को किसी भी वक्त खा सकते हैं जैसे सुबह के नाश्ते में दोपहर के लंच में या फिर रात के डिनर में| अंडों को आप आमलेट बना कर खा सकते हैं| उबले हुए अंडे को खाना सबसे अच्छा माना जाता है इसलिए कोशिश करें कि आप उबले हुए अंडे के साथ भीगे हुए चने खाएं|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए केला (Banana) खाएं

नियमित रूप से केला खाना आपके शरीर में शुक्राणु की मात्रा को बढ़ा देगा| केले में कुछ ऐसे प्रोटीन और विटामिन पाए जाते हैं जो पुरुष के शरीर में टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने में मदद करते हैं| डॉक्टर एवं प्रांत बताते हैं कि पुरुषों के शरीर में शुक्राणु की कमी के लिए केला सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है| आप केले को सुखा खा सकते हैं या शेक बनाकर भी ले सकते हैं|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए पालक (Spinach) खाएं

पालक में आयरन होता है जो पुरुषों के शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है| जितना ज्यादा हो सके पालक का सेवन करना चाहिए क्योंकि इससे पूर्व अपने शरीर में शुक्राणु की कमी को पूरा कर सकता है| यदि आपको पालक नहीं पसंद है तो आप उसे अलग-अलग तरीकों से ले सकते हैं जैसे पराठे में सब्जी में जूस में इत्यादि|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए अखरोट (Walnuts) खाएं

अखरोट में हेल्थी फैट पाए जाते हैं और इसके अलावा कई विटामिंस और मिनरल्स का भी स्रोत अखरोट ही है| यदि आपके शरीर में शुक्राणुओं की कमी है तो आपको अखरोट का सेवन करना चाहिए अखरोट को आप कच्चा खा सकते हैं| या फिर ड्राई फ्रूट्स की तरह भी यूज कर सकते हैं अखरोट टेस्टोस्टेरोन की मात्रा को एवं शुक्राणुओं की मात्रा को बढ़ाने में सहायक है|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए अश्वगंधा (Ashwagandha) खाएं

अश्वगंधा में लिवर टॉनिक एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीबैक्टीरियल एवं एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है| और यह सभी चीजें पुरुष के शरीर में शुक्राणुओं की कमी को पूरा करने में सहायक है| आप अश्वगंधा को किसी भी फॉर्म ले सकते हैं जैसे कि पाउडर एवं टेबलेट अश्वगंधा को दूध के साथ खाना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण एवं लाभकारी माना जाता है|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए अनार (Pomegranates) खाएं

अनार सबसे सर्वश्रेष्ठ फल माना जाता है क्योंकि इसमें फास्फोरस, पोटैशियम, मैग्निशियम, सेलेनियम एवं जिंक पाया जाता है| अनार का भरपूर सेवन पुरुष के शरीर में शुक्राणु की कमी को पूरा करता है| यदि आपके शरीर में शुक्राणु की मात्रा बहुत कम है तो आपको अनार के जूस का सेवन करना चाहिए| आप अनार को खाने के साथ भी ले सकते हैं|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए अंजीर (Figs) खाएं

डायटिशियन बताते हैं कि अंजीर का सेवन पुरुष के शरीर में शुक्राणुओं की कमी को पूरा करता है अंजीर में विटामिन बी, विटामिन ए एवं फाइबर होता है| अंजीर को आप सुबह सुबह नाश्ते में ले सकते हैं जिससे कि यह पूरा दिन आपके शरीर में रहकर शुक्राणुओं को निर्मित करेगा|

शुक्राणु बढ़ाने के लिए मेथी (Fenugreek or methi) खाएं

मेथी पुरुष और महिलाओं दोनों के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती है| मेथी में कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, सोडियम, जिंक, फोलिक एसिड जैसे अनेक विटामिंस और मिनरल्स पाए जाते हैं| यदि पुरुषों में शुक्राणु की मात्रा कम है तो उन्हें मेथी का निरंतर सेवन करना चाहिए| मेथी को पानी में भिगोकर भी खा सकते हैं या फिर अपने खाने में मेथी की मात्रा बढ़ा सकते हैं|

दिल्ली के सेक्सोलॉजिस्ट (Best Sexologist in Delhi)

डॉ गौतम दिल्ली के सबसे बड़े सेक्सोलॉजिस्ट में गिने जाते हैं इन्होंने कई पुरुषों एवं महिलाओं के जीवन को आनंदमय बनाने का कार्य किया है यदि आपका जीवन साथी किसी भी शख्स समस्या से परेशान है तो आप डॉ गौतम के क्लीनिक आ सकते हैं डॉ गौतम बहुत ही जाने माने सेक्सोलॉजिस्ट हैं जिन्होंने कई पारंगत डिग्रियां हासिल की है अगर आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट पर आकर पढ़ सकते हैं आप इनके पिछले पेशेंट के टेस्टिमोनियल्स भी देख सकते हैं

Our Location

faridabad Me Ling ke Aakar Badhane ka Sabse Accha Doctor | Noida Me Ling ke Aakar Badhane ka Sabse Accha Doctor | Gurgaon Me Ling ke Aakar Badhane ka Sabse Accha Doctor | Delhi Me Ling ke Aakar Badhane ka Sabse Accha Doctor | Lucknow Me Ling ke Aakar Badhane ka Sabse Accha Doctor

Related Post: पेनिस वृद्धि के लिए आयुर्वेदिक प्राकृतिक उपचार

Recent Blogs